Voice of Nigohan

- Advertisement -

कोरोना वायरस से बचाव हेतु गुमानी खेड़ा प्रधानाध्यापक ने छात्रों को बांटे मास्क

18

कोरोना वायरस से बचाव हेतु प्रधानाध्यापक ने छात्रों को बांटे मास्क

नगराम , लखनऊ । कोरोना वायरस से बचने के लिए सरकार द्वारा भी एडवाइजरी जारी की गई है उसी को लेकर आज प्राथमिक विद्यालय गुमानी खेड़ा मोहनलालगंज लखनऊ में बच्चों को कोरोना वायरस के बारे में कि कोरोना वायरस क्या है यह कहां से आया तथा इसके लक्षण क्या हैं उपचार और बचाव के बारे में बताया गया l प्रधानाध्यापक अनिल कुमार वर्मा ने बताया किविद्यालय में बच्चों के साथ-साथ उनके अभिभावकों को भी बुलाया गया था उन्हें बताया कि दिसंबर में चीन के वुहान शहर में प्रकोप शुरू होने के बाद यह वायरस चीन से निकलकर एशिया के दूसरे देशों में पहुंच गया है यह अब तक 68 देशों में फैल चुका है वायरसों का एक बड़ा समूह है कोरो ना जो जानवरों में आम है अमेरिका के सेंटर सीडीएस के अनुसार कोरोना वायरस जानवरों से मनुष्य तक पहुंच जाता है विश्व स्वास्थ संगठन ने सभी देशों से कहा है कि आप लोग बीमार लोगों की निगरानी करें तथा एहतियात बरतने को कहें यह वायरस लोगों के स्वसन तंत्र की बीमारी के साथ-साथ एक आम सर्दी के समान होती है इसमें नाक का बहना खांसी गले में खराश कभी-कभी सिरदर्द तथा बुखार शामिल है जो कुछ दिनों तक रह सकता है कमजोर प्रतिरोधक क्षमता वाले लोगों या जिनकी रोगों से लड़ने की क्षमता कम होती है ऐसे लोगों के लिए यह घातक है बुजुर्ग और बच्चे इसके आसान शिकार होते हैं अभी तक इसका कोई विशिष्ट उपचार नहीं है दर्द बुखार की दवा राहत दे सकती है कोशिश करें गर्म पानी से स्नान करें  गुनगुना पानी पिए और जो मरीज हो वह तरल पदार्थ का सेवन करें तथा आराम करें भरपूर नींद लें आम सर्दी से अलग लक्षण दिखाई दें तो डॉक्टर की सलाह लें l हमें इससे बचने के लिए दिन में कई बार साबुन से हाथ धोना चाहिए खांसते व छीकते समय मुंह को टिशू पेपर या कोहनी से ढके तथा खांसी जुखाम बुखार वाले व्यक्ति से दूरी बना कर रहे अंडा मांस मछली ना खाएं तथा लोगों से हाथ मिलाने से बचें l उचित दूरी से हाथ जोड़कर नमस्ते करें  पशुओं को छूने के बाद साबुन से हाथ धोएं तथा बार-बार अपने चेहरे को भी मत छुए l मास्क का प्रयोग करें l इस अवसर पर विशेश्वर राम कुमारी बबली जगदेई संतोष कुमारी अनीता सीमा राजकुमारी सहित तमाम अभिभावक मौजूद थे ।

नगराम से परशुराम की रिपोर्ट

Comments are closed.