Voice of Nigohan

- Advertisement -

हिलौली/ उन्नाव – प्रधानमंत्री आवास पाने के लिए पात्रता श्रेणी में होने के बावजूद भी अधिकारियों की डयोढ़ी के दो वर्षों से चक्कर काट रहा गरीब परिवार 

68

प्रधानमंत्री आवास पाने के लिए पात्रता श्रेणी में होने के बावजूद भी अधिकारियों की डयोढ़ी के दो वर्षों से चक्कर काट रहा गरीब परिवार 

मामला हिलौली ब्लॉक का

उन्नाव /ब्यूरो — राजकुमार यादव
हिलौली / उन्नाव । एक तरफ गरीब परिवारों को सरकार द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत गरीब व पात्र परिवारों को लाभान्वित करने का फरमान मातहतों को जारी किया जा रहा है । वही दूसरी तरफ जिम्मेदार है कि सरकार के आदेश की भी धज्जियां उड़ाने में किसी प्रकार की कोताही नही बाकी रख रहे है , और सरकार की मंशा पर पानी फेर सरकार की किरकिरी कराने से बाज नही आ रहे है । पूरा मामला विकास खंड हिलौली में लगने वाली ग्राम सभा चित्ता खेड़ा का है , इस गांव के ग्रामीणों ने बताया कि गांव में रहने वाले गरीब राम बहादुर कुशवाहा का मकान कच्चा व जर्जर है , और गरीब परिवार पात्रता श्रेणी में भी आता है । बावजूद उसके भी परिवार के मुखिया राम बहादुर कुशवाहा विगत दो वर्षों से प्रधानमंत्री आवास पाने के लिए हाथों में लिखित प्राथना पत्र पकड़े अधिकारियों की डयोढ़ी के चक्कर लगा लगा कर थक चुके है , लेकिन आलाधिकारियों का दिल फिर भी नही पसीजा और गरीब परिवार विकास खंड हिलौली के वीडियो साहब के दफ्तर के चक्कर काट काट कर तक हार चुका है । लेकिन पात्र होने के बावजूद भी गरीब परिवार को प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ अब तक नही मिल पाया है । और चंद दिनों के बाद बरसात शुरू होने को है वही गरीब परिवार सहित कच्चे व जर्जर मकान में रहने को मजबूर है , यदि अधिक बरसात हो गयी तो कच्चा व जर्जर मकान जमीदोज भी हो सकता है और बड़ा हादसा भी घट सकता है । शायद तब प्रशासन गहरी नींद से जागे , वही ग्रामीणों ने बताया कि गरीब राम बहादुर अधिकारियों को खुश नही कर पाया बस इसी बात का खामियाजा गरीब के परिवार को चुकाना पड़ रहा है और पात्र होने के बावजूद भी अब तक परिवार को प्रधानमंत्री आवास योजना से लाभान्वित नही हो पाया है और अपात्रो को प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ सचिव व प्रधान के द्वारा दिया जा चुका है , लेकिन गरीब राम बहादुर की फरियाद सुनने वाला कोई नही है । और पीड़ित परिवार ग्राम प्रधान व पंचायत सचिव से लेकर वीडियो साहब के दफ्तर की डयोढ़ी के चक्कर काट काट कर थक हार चुका है । वही ग्रामीणों से कहा कि साहब को सुविधाशुल्क दो और आवास लो अन्यथा पात्र होने के बावजूद भी लगाते रहो ब्लॉक के चक्कर , वही ग्रामीण पात्र राम बहादुर ने जिम्मेदारों के ऊपर आरोप लगाया है कि यदि बरसात में मेरा कच्चा जर्जर मकर यदि भरभरा कर गिर गया और कोई हादसा घट जाता है तो इसका जिम्मेवार प्रशासन होगा । और हम न्याय की लड़ाई लड़ते रहेंगे आखिर कोई तो सुनेगा कभी अरज हमारी , और हमे अपने सीयम, और पीएम , पर पूरा भरोसा है , और हमारे परिवार को पक्की छत आज नही तो कल जरूर नसीब हो सकेगी । इस विषय मे जब खण्ड विकास अधिकारी हिलौली से बात करने की कोशिश की गई तो घण्टी पूरी जाने के बावजूद भी उनका फोन नही उठा ।

राजकुमार यादव , ब्यूरो उन्नाव ।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.