Voice of Nigohan

- Advertisement -

उन्नाव / सोहरामऊ – वाह वर्दी के आगे सब बेकार, जब पुलिस बनी न्यायाधीश

53

 वाह वर्दी के आगे सब बेकार,
  जब पुलिस बनी न्यायाधीश

राजकुमार यादव की रिपोर्ट
ब्यूरो रिपोर्ट  – उन्नाव / सोहरामऊ – बुजुर्ग पिता न्याय की आस लेकर दर दर भटक रहा पुलिस कर्मी उल्टे भुक्तभोगी को धमकाने में जुटे आखिर कब सुधरेंगे वर्दी धारक, हत्या का मुकदमा दर्ज होने के बावजूद भी पीड़ित को धमकाकर पुलिस बना रही पीड़ित पर सुलह समझौता का दबाव बना रहे हैं आरोपी खुलेआम घूम कर धमकी दे रहे अब तक नही हो सकी आरोपियों की गिरफ्तारी ,
प्राप्त जानकारी के अनुसार सोहरामऊ थाना जिला उन्नाव के आशा खेड़ा के मजरे मिश्रा पुर गांव के किसान रघुबीर प्रसाद पुत्र स्व० धनाइ के इकलौते पुत्र संजय की हत्या 18 मई 2019 को कर दी गई थी , नामजद अभियुक्तों के विरूद्ध दी गई तहरीर पर सोहरामऊ पुलिस ने मुकदमा दर्ज करने से मना कर दिया , पुलिस बनी न्यायाधीश ,फिर पीड़ित पक्ष ने पुलिस अधीक्षक उन्नाव से न्याय की गुहार लगाई तब मुकदमा पंजीकृत हुआ , और एक माह बीत जाने के बाद भी सोहरामऊ पुलिस अभियुक्तों को गिरफ्तार नही कर सकी है । और दबंग पीड़ित को धमकी दे रहे है कि सुलह कर लो , अन्यथा अंजाम सही नही होगा । इससे स्पष्ट है कि पुलिस भी दबंगो का साथ दे रही है ,और पीड़ित न्याय की आस में दर दर की ठोकरे खाने को मजबूर है ।

मृतक संजय के पिता रघुबीर ने बताया की पिछले महीने 18 मई शनिवार को मेरे पुत्र संजय की ससुराल पक्ष के प्रेमचंद्र ससुर , साला, सास , व पत्नी ने मिलकर हत्या कर दी थी । जिसकी लिखित सूचना सोहरामऊ थाने में दी गई थी । लेकिन सोहरामऊ पुलिस ने मुकदमा लिखने से इंकार कर दिया था उल्टा पीड़ित पर ही सुलह का दबाव बना ने लगी , जब पीड़ित ने उन्नाव पुलिस अधीक्षक से शिकायत की तो फटकार के बाद सोहरामऊ पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया था । दर्ज हुए एक माह बीत चुका है । अभी तक कोई कार्यवाही पुलिस ने नहीं की जिससे आरोपियों के हौसले बुलंद हैं । और पुलिस कि सह पर आरोपी खुलेआम गांव मे घूम रहे हैं। उल्टे पीड़ित को फंसाने की धमकी दी जा रही है । जिसकी शिकायत पीड़ित ने मुख्यमंत्री से की है, लेकिन पीड़ित को अब तक न्याय न मिल पाने के कारण पीड़ित व उसके परिवारीजन सांसत में है । और पीड़ित को पुलिस द्वारा बार बार पूछताछ के नाम पर थाने बुलाकर प्रताड़ित किया जाता है , इकलौते जवान बेटे की मौत हो जाने से पीड़ित व उसका परिवार गहरे सदमे में है , ऊपर से पुलिस और विपक्षी भी उसे धमका रहे है । यदि पीड़ित को न्याय नही मिला तो लोगो का भरोसा कानून से भरोसा उठ जाएगा ।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.