Voice of Nigohan

- Advertisement -

निगोहा – अपहरणकर्ताओं को निगोहा पुलिस ने दबोचा, भेजा जेल

पीड़ित की पत्नी ने थाना निगोहां में लिखित तहरीर देकर लगाई थी न्याय की गुहार

22

अपहरणकर्ताओं को निगोहा पुलिस ने दबोचा, भेजा जेल

पीड़ित की पत्नी ने थाना निगोहां में लिखित तहरीर देकर लगाई थी न्याय की गुहार

ब्यूरो रिपोर्ट-  निगोहा / लखनऊ – पुलिस महकमा इन दिनों अपराधियो के विरुद्ध अभियान चलाकर एक ओर जेल भेज रहा है , वही दूसरी तरफ अपराधी अपनी हरकतों से बाज नही आ रहे है , आये दिन नई नई घटनाओं को अंजाम दे रहे है । लेकिन पुलिस विभाग ने भी अपराधियो की नाक में दम कर रखा है , जिससे उनके हौसले पस्त है । पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक मंगलवार शाम को सुजीत चौरसिया पुत्र स्व० राम मिलन निवासी कस्बा निगोहां का अपहरण कर लिया था , पत्नी साधना ने थाना निगोहां जाकर लिखित तहरीर देकर न्याय की गुहार लगाई थी , पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए पीड़ित द्वारा दी गयी तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर लिया था , निगोहां पुलिस अपहरणकर्ताओं की तलाश में जुट गयी थी , आज दिन बुधवार को निगोहां पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि अपहरणकर्ताओं ने अपने घर वीरसिंह पुर मे ही सुनील चौरसिया को बंधक बनाकर रखे है , यदि समय रहते पुलिस टीम छापेमारी कर दे तो उनके चंगुल से पीड़ित को मुक्त कराया जा सकता है और अपहरण करने वाले अभियुक्तों को गिरफ्तार किया जा सकता है । मुखबिर से सूचना पाकर थानाध्यक्ष निगोहां मुस्तैदी से पुलिस टीम के साथ मुखबिर की बताई जगह पर जा पहुचे और अभियुक्तों के घर को चारो ओर से घेराबन्दी कर अभियुक्तों को धर दबोचा और पीड़ित को अपहरणकर्ताओं के चंगुल से मुक्त कराया और मौके पर से अभियुक्तों द्वारा उक्त घटना में इस्तेमाल की गयी काले रंग की स्कार्पियो के साथ थाना निगोहां ले आये और अपहृत हुए सुजीत चौरसिया निवासी कस्बा निगोहां को मेडिकल चेकअप के लिए सीएचसी मोहन लाल गंज भेज कर उसका मेडिकल परीक्षण कराया , अपहृत सुनील चौरसिया को पुलिस टीम ने अभियुक्त सोनू के घर से सकुशल बरामद किया था , वही दूसरी ओर निगोहां पुलिस ने अफरणकर्ताओ से उनका नाम व पता पूछा तो एक ने अपना नाम कुलदीप सिंह पुत्र , दूसरे ने सोनू कुमार , तीसरे ने अपना नाम संदीप कुमार निवासीगण ग्राम वीरसिंह पुर थाना निगोहां जनपद लखनऊ बताया , इन तीनो के विरुद्ध थाना निगोहां में अपह्रत सुजीत चौरसिया की पत्नी साधना के द्वारा दी गयी लिखित तहरीर के आधार पर मु० अपराध संख्या 133/ 19 धारा 364 ए से सम्बंधित अभियोग पंजीकृत था , और पुलिस ने जब इन तीनो का आपराधिक इतिहास पता किया तो अन्य थानों में भी अभियुक्त कुलदीप सिंह के ऊपर कई मुकदमे दर्ज थे । वही निगोहां थानाध्यक्ष जगदीश पांडेय ने बताया कि अपहरणकर्ताओं के विरुद्ध आईपीसी की धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर उन्हें जेल भेज दिया गया है l

रिपोर्टर – सूरज अवस्थी

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.