Voice of Nigohan

- Advertisement -

निगोहा – ग्रामसभा मीरक नगर में सफाई कर्मी नदारद , ग्रामीणों में रोष

7

ग्राम सभा मीरक नगर में सफाई कर्मी नदारद , ग्रामीणों में रोष

रिपोर्ट – सर्वेश शुक्ला

निगोहा / लखनऊ – राजधानी लखनऊ के ब्लॉक मोहनलालगंज निगोहा क्षेत्र में लगने वाले मीरक नगर ग्राम सभा में तैनात सफाई कर्मी अपनी ड्यूटी करने गाँव में न आने से ग्रामीणों में रोष व्याप्त है वही ग्रामीणों ने बताया कि कुछ सफाई कर्मी एक आध मजदूर रखकर क्षेत्र के कुछ गाँव में थोड़ी बहुत गांव की साफ-सफाई कराते हैं, परंतु कुछ सफाई कर्मी जो अपने आप को राजनीतिक पहुंच वाला मानते हैं वह अपनी ड्यूटी पर कतई नहीं जाते हैं यही आलम है मीरक नगर सफाई कर्मी का ऐसा भी नहीं है कि इस बात की जानकारी विभागीय अधिकारियों को नहीं है l निश्चित रूप से इसकी जानकारी विभागीय अधिकारियों को होगी जिम्मेदार अधिकारी कोई ठोस कार्रवाई नहीं कर रहे हैं , जिसके कारण एक ओर सरकार का धन वेतन के रूप में जो दिया जा रहा है उसका दुरुपयोग हो रहा है , जब ग्रामीण छोटेलाल, नन्हे प्रसाद, नवमी लाल, पप्पू व गणेश से बात की गई तो उन्होंने बताया कि हमारे यहां कौन सा सफाई कर्मी तैनात है हमने उसे कभी गांव की साफ- सफाई करते हुए कभी देखा ही नहीं हैI तो हम उसे पहचानेंगे कैसे

जानकारी के अनुसार  राजधानी लखनऊ के विकासखंड मोहनलालगंज मे लगने वाले निगोहा क्षेत्र की ग्राम पंचायत मीरक नगर और मजरे कासिमपुर , भैरमपुर गांव के लोगों ने सफाई कर्मी रामगोपाल बाजपेई के गाँव में सफाई न करने के कारण विरोध व्यक्त किया है । वहीं जब इस मामले में गाँव के प्रधान प्रतिनिधि मनीष वर्मा से बात की गई तो बताया कि सफाई कर्मी गाँव में नही आता है उन्होंने बताया कि काफी दिनों बाद तीन-चार दिन पहले आया था , मनीष ने बताया कि सफाई करने के लिए बोला था लेकिन कहीं भी सफाई नहीं की , खुद मौज उड़ाता है । शिकायत करने पर कोई सुनवाई नहीँ होती है । पूरे गाँव में गन्दगी का अंबार लगा है सभी नालियाँ चोक है जल निकासी नही हो पाने के कारण पानी गाँव में ही भरा रहता है और बज बजाता रहता है । उक्त प्रकरण में जब ग्राम विकास अधिकारी विनोद गौड़ से बात की गई तो उन्होंने बताया कि सफाई कर्मी रामगोपाल बाजपेई की शिकायत कई बार मौखिक और लिखित रूप से ब्लॉक में किए हैं, लेकिन वह सुधरने का नाम नहीं ले रहा l
जब उक्त प्रकरण में मीरक नगर मे तैनात सफाई कर्मी रामगोपाल बाजपेई से फोन पर बात करने की कोशिश की गई तो उसने बताया कि आते तो है फिर उसने कहा कि अभी हम गाड़ी चला रहे हैं बाद में बात करेंगे उसके बाद उससे संपर्क नहीं हो सका l
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ स्वच्छता अभियान को लेकर इतने संवेदनशील हैं ।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.