Voice of Nigohan

- Advertisement -

उन्नाव जिले के हिलौली ब्लॉक स्थित असरेंदा मे सूखा पड़ा तालाब ,  ग्रामीणों को पानी भरने का इंतजार

उन्नाव में कई तालाब सूखे, मवेशी और ग्रामीण परेशान

46

उन्नाव जिले के हिलौली ब्लॉक स्थित असरेंदा मे सूखा पड़ा तालाब ,  ग्रामीणों को पानी भरने का इंतजार

उन्नाव में कई तालाब सूखे, मवेशी और ग्रामीण परेशान

रिपोर्ट – राजकुमार यादव

ब्यूरो रिपोर्ट – असरेंदा / उन्नाव । भीषण गर्मी के कारण जिले के बड़े व आदर्श तालाब भी सूखने लगे हैं। तेजी से सूखते तालाब से अब पशु-पक्षियों के सामने प्यास बुझाने तक का संकट गहरा गया है। जब तालाबों में पानी नहीं होगा, तो ग्रामीण पशुओं की प्यास कैसे बुझा पाएंगे। जनपद में कुछ तालाब ऐसे हैं, जिन्हें मनरेगा द्वारा निर्मित कराया गया था। इनमें से कुछ तालाब ऐसे हैं, जिन्हें हालिया वर्षों में मनरेगा से जीर्णोद्धार कराया गया था। जबकि कुछ तालाबों को नए सिरे से निर्मित कराया गया था। तालाबों में पानी न होने से ग्रामीण, पशुपालक, किसान ही नहीं बल्कि वन्य जीव और पशु-पक्षी भी परेशान हैं।

जिला मुख्यालय से करीब ४० किलोमीटर की दूरी पर हिलौली ब्लॉक के असरेंदा गाँव में ग्राम प्रधान द्वारा तालाब खुदवाया गया और उसका सौंदर्यीकरण भी किया गया था। भीषण गर्मी में तालाब सूख गया है। तलहटी में नाम मात्र का पानी बचा हुआ है जो इस विकराल गर्मी में कुछ दिनों में ही पूरी तरीके से सूख जाएगा तालाब सूखने से मवेशियों और ग्रामीणों के सामने जल संकट पैदा हो गया है। ग्रामीण छोटेलाल (55वर्ष) का कहना है,“ किस क्षेत्र के कई तालाब सूखने से हमारे सामने मुसीबत खड़ी हो गई है। पशुओं को काफी दिक्कत हो रही है।” वहीं इसी गाँव के रहने वाले प्रिंशू (20वर्ष) का कहना है, प्रदेश सरकार ने सूखे तालाबों को भरवाने का आदेश दिया है, लेकिन हमारे गाँव का तलाब अभी सूखने की कगार पर है। जिसका नाम पिथा तालाब है जो पूरी तरीके से सूखा पड़ा है , तलहटी में कुछ दिनों का मेहमान है पानी, ग्रामीणो को तालाब मे अब पानी भरने का इंतजार ।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.